कौंच के बीज अविवाहित क्यों नहीं खा सकते?

ऐसा कुछ नहीं है कि कौंच के बीज अविवाहित नहीं खा सकते।

मायने यह रखता है कि आप कौंच के बीज का इस्तेमाल किस लिए कर रहे हैं। मैं मुख्यता कौंच के बीज का इस्तेमाल उर्जा बनाए रखने के लिए और व्यायाम संबंधित चीजों के लिए इस्तेमाल करता हूं।

भारत में परंपरागत रूप से कौंच के बीज पुरुषों में स्पर्म काउंट बढ़ाने में, नसों की तकलीफ दूर करने में और पार्किंसन बीमारी और गठिया के इलाज में मुख्यता इस्तेमाल किया जाता है।

कौंच के बीजों में अच्छी मात्रा में एल डोपा पाया जाता है जो कि आपके शरीर में डोपामिन के स्तर बनाए रखने में मददगार होता है और कुछ शोधों में पाया गया है की है डिप्रेशन के लक्षणों को भी दूर करने में मददगार होता है।

किसी भी नए सप्लीमेंट या दवा का इस्तेमाल अपने डॉक्टर के राय के साथ ही करना हमेशा बेहतर रहता है।

Leave a Comment