भारतीय कला में तान्त्रिक प्रवृत्ति | Tantric Trend in Indian Art

भारतीय कला में तान्त्रिक प्रवृत्ति

प्राचीन भारत में गुप्त रहस्यात्मक सिद्धि की क्रिया का नाम तन्त्र था। इसके तीन अंग थे : यन्त्र, मन्त्र और तन्त्र । किसी ताम्रफलक अथवा कपड़े, कागज, ताडपत्र आदि पर …

Read more

लोक कला का प्रभाव | Influence of Folk Art

लोक कला का प्रभाव

लोक कला की जिन विशेषताओं ने आधुनिक कलाकारों को प्रभावित किया है वे निम्नलिखित हैं- 1. सरल बाह्य रेखा के प्रति आग्रह । प्रतिरूपात्मकता की प्रवृत्ति । 2. रंगों तथा …

Read more

कला व परंपरा | Art and Tradition

कला व परंपरा

कला व परंपरा का आपसी संबंध एक ऐसा विषय है जिस पर अनेक कलाकारों व लेखकों ने अपने-अपने दृष्टिकोण से भिन्न मत व्यक्त किये हैं।  वर्तमान में तो भारतीय कलाक्षेत्र …

Read more

यूरोप की अठारहवीं सदी की चित्रकला | 18th Century Painting in Europe

यूरोप की अठारहवीं सदी की चित्रकला

अठारहवीं सदी की चित्रकला राइनलैंड में वाइब्यूकेन के ड्यूक के लिए भवन-निर्माण का कार्य कर रहे फ्रेंच वास्तुकार ने 1765 में लिखा था कि प्राचीन काल में कला की दृष्टि …

Read more

कला का उद्देश्य | कला का प्रयोजन | Purpose of Art

कला का उद्देश्य

कला का उद्देश्य क्या है? मानवेत्तर प्राणी अपनी सहज प्रवृत्तियों पर निर्भर रह कर अपना जीवनकाल सरलता से व्यतीत कर लेते हैं। उनको क्या करने से क्या होगा, क्या करना …

Read more

भारतीय चित्रकला में नई दिशाएँ

भारतीय चित्रकला में नई दिशाएँ

लगभग 1905 से 1920 तक बंगाल शैली बड़े जोरों से पनपी देश भर में इसका प्रचार हुआ और इस कला-आन्दोलन को राष्ट्रीय कहा गया।  1920 के लगभग इस क्षेत्र में …

Read more

पन्द्रहवीं सदी की योरोपीय चित्रकला (आरम्भिक पुनर्जागरण )

पन्द्रहवीं सदी की यूरोपीय चित्रकला

महान् कलात्मक आन्दोलन जो पुनर्जागरण या पुनरुत्थान नाम से प्रसिद्ध है व जिसका इटली में पन्द्रहवीं सदी में आरम्भ हुआ था, के क्या कारण थे, इसका विश्लेषण करने के कई …

Read more

ईसाई चित्रकला

ईसाई चित्रकला

ईसाई चित्रकला के प्रारम्भिक चरण पहली शताब्दी के अन्त तक ईसाई धर्म का रोमन साम्राज्य में प्रचार हो चुका था व गिरजाघरों के अध्यक्षों के सामने प्रश्न उपस्थित हुआ कि …

Read more

चित्रकला के छः अंग | षडंग | Six Limbs Of Painting

चित्रकला के छः अंग

जयपुर नरेश जयसिंह प्रथम की सभा के राजपुरोहित पंडित यशोधर ने ग्यारहवीं शताब्दी में ‘कामसूत्र’ की टीका ‘जयमंगला’ नाम से प्रस्तुत की। ‘कामसूत्र’ के प्रथम अधिकरण के तीसरे अध्याय की …

Read more

राजवंशों द्वारा संरक्षित चित्रकला | Art Preserved by Dynasties

राजवंशों द्वारा संरक्षित चित्रकला

भारतीय राजवंशों के संरक्षण में पल्लवित चित्रकला को बुद्ध के काल (५०० ई० पू०) से आरम्भ हुआ मानना उचित है रामायण, महाभारत, बौद्ध तथा जैन साहित्य तथा पुराणों में चित्रकला …

Read more

संस्कृति तथा कला

कला संस्कृति एवं सभ्यता

किसी भी देश की संस्कृति उसकी आध्यात्मिक, वैज्ञानिक तथा कलात्मक उपलब्धियों की प्रतीक होती है। यह संस्कृति उस सम्पूर्ण देश के मानसिक विकास को सूचित करती है। किसी देश का …

Read more

Art — An Introduction

What is Art — An Introduction (Indian Context) Art is a technique to complete work in a particular manner to get the best result. A person gets the artistic or …

Read more

15 Best Heart Touching Quotes 5 best ever jokes